You are here
Home > विज्ञान > टॉकिंग सेक्स डॉल कर रही है चीन में मर्दों का अकेलापन दूर!

टॉकिंग सेक्स डॉल कर रही है चीन में मर्दों का अकेलापन दूर!

टॉकिंग सेक्स डॉल

टॉकिंग सेक्स डॉल कर रही है चीन में मर्दों का अकेलापन दूर! चीन के लोग अकेलेपन के शिकार हो रहे हैं। लड़कियों की संख्या घटने के साथ ही वहां के ज्यादातर पुरुष बूढ़े हो रहे हैं। ऐसे में खुद को एकाकी महसूस करने वाले लोगों के लिए वहां सेक्स डॉल्स बनाई गई हैं। ये सेक्स डॉल्स न सिर्फ लोगों के साथ बात करती है बल्कि उनसे प्यार भी करती है। चीन, जापान के बाद दूसरा देश है जहां के पुरुष सेक्स डॉल्स में प्यार खोज रहे हैं।

इसे भी पढ़िए:   रेप से बचाएगी ये पैंटी, उत्तर प्रदेश की लड़की ने बनाई अनोखी पैंटी

इन टॉकिंग सेक्स डॉल्स को चीन के उत्तरी पोर्ट के शहर डालियान में स्थित एक कंपनी ने बनाया है। ये सेक्स डॉल अपना नाम भी बताती हैं और पूछने वाले से खुद को ‘बेबी’ कहने के लिए कहती हैं। इन टॉकिंग सेक्स डॉल्स में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस तकनीक का इस्तेमाल किया गया है।

इसे भी पढ़िए:   पेनिसिलिन के इस्तेमाल से दुनिया में आई यौन क्रांति, रिसर्च में दावा

ये टॉकिंग सेक्स डॉल काफी महंगी हैं। इनकी कीमत ढ़ाई लाख रुपये के करीब है। कंपनी का कहना है कि अगले साल तक इन टॉकिंग सेक्स डॉल में और एडवांस फीचर्स जोड़े जाएंगे। इन डॉल्स को EXDOLL कंपनी बना रही है। चीन की तरह ही जापान में भी सेक्स डॉल्स बूढ़े और अकेले लोगों की जिंदगी में सबसे महत्वपूर्ण प्यार बन रही हैं। वहां के लोग भी सेक्स डॉल को अपने साथ बाजार ले जाते हैं। उनके साथ डेट तक करते हैं।

इसे भी पढ़िए:   सेक्स फिट एप सुलझाएगा मर्दों की सारी दिक्कत, अब पूछने में शरमाना नहीं पड़ेगा

चीन में महिलाओं से ज्यादा पुरुषों की संख्या है। पूर्व की ‘वन चाइल्ड पॉलिसी’ ने चीन में लड़कियों और लड़कों के बीच आबादी गैप को काफी बढ़ा दिया है। इन टॉकिंग डॉल्स को लोग अपने साथ शॉपिंग भी ले जा सकते हैं। इन डॉल्स में वाई-फाई फंक्शन लगा है। जिसे कस्टमर्स अपने आईफोन के सीरी ऑप्शन से भी संचालित कर सकते हैं। ये डॉल्स कस्टमर्स के वॉयस कमांड का भी जवाब देती हैं।

इसे भी पढ़िए:   सेक्स करने से पहले गर्लफ्रैंड के साथ साइन कीजिए कॉन्ट्रैक्ट, आने वाला ऐप

कंपनी का कहना है कि इन टॉकिंग सेक्स डॉल्स की वजह से चीन की बढ़ती सामाजिक समस्याएं दूर हो सकती हैं। कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर वू शिंगलियांग के मुताबिक इन डॉल्स को खरीदने वालों में जवान, बुजुर्ग और यहां तक की शादीशुदा पुरुष भी शामिल हैं। उनका कहना है कि ये डॉल्स लोगों के साथ बातचीत करती हैं। उनके मेडिकल असिस्टेंट की जिम्मेदारी भी निभाती हैं।

Leave a Reply

Top