You are here
Home > लाइफस्टाइल > सेक्सटिंग करते हैं अगर आप अपने पार्टनर के साथ तो वो कर सकती है ब्रेकअप!

सेक्सटिंग करते हैं अगर आप अपने पार्टनर के साथ तो वो कर सकती है ब्रेकअप!

सेक्सटिंग

सेक्सटिंग करते हैं अगर आप अपने पार्टनर के साथ तो वो कर सकती है ब्रेकअप! सेक्सटिंग या यूं कहें सेक्स टेक्सटिंग, आजकल युवाओं के बीच काफी प्रचलन में है। सेक्सटिंग का मतलब है सेक्सुअल तस्वीरें और मेसेज मोबाइल फोन के ज़रिए दूसरे से शेयर करना। एक दूसरे की देखा-देखी आज के दौर के युवक-युवतियां इसमें कुछ ज्यादा ही रुचि दिखा रहे हैं। इंटरनेट के ज़माने में सेक्सटिंग या कामुक तस्वीर वाले संदेश भेजना सामान्य बात है। पार्टनर ने क्या पहना है और कैसा लग रहा है, जैसी बातें दूरियां पाट देती हैं। इससे सेक्स लाइफ भी अच्छी होती है। हालांकि इसके कई नुक़सान भी हैं।

इसे भी पढ़िए:   अमेरिकी ब्लैक ज्यादा देखते हैं पोर्न, शोध में खुलासा

ऐसे रिश्तों में टेक्नोलॉजी अहम भूमिका निभाती है और फोन का सिग्नल कमजोर होना जैसी बातें शक का कारण बन जाती हैं। सेक्सटिंग करने वाले लोग बिना मेहनत अपने रिश्ते में मजबूती चाहते हैं और इसके लिए सेक्स्ट का तरीका अपनाते हैं, जिसका चार्म एक वक्त के बाद खत्म हो जाता है। अगर आप अपने रोमांटिक रिश्ते में गहराई चाहते हैं तो सेक्स्ट को थोड़ा विराम दें और साथ वक्त बिताएं।

इसे भी पढ़िए:   सुहागरात पर इससे आगे बढ़ ही नहीं पाते हैं भारतीय पुरुष, जानिए क्यों?

यूनिवर्सिटी ऑफ अल्बर्टा में 615 लोगों पर हुए एक शोध में ये बात सामने आई कि सेक्स टिंग करते हुए रिश्ते में सिर्फ सेक्स पार्ट ठीक रह जाता है और भावनात्मक दूरियां बढ़ जाती हैं। सेक्सटिंग शब्द अंग्रेजी के sex और texting से मिलकर बना है, जिसमें निजी पलों की तस्वीरों और शब्दों के जरिए सेक्स की अनुभूति होती है।इस वक्त तुमने क्या पहना हुआ है, जैसे सेक्स्ट करने वाले लोग अपने साथी के साथ निजी पलों को ज्यादा एंजॉय करते हैं। हालांकि इससे उनके बीच इमोशनल दूरियां बढ़ने लगती हैं। सेक्स्ट करने वाले लोग अपने रिश्ते को लेकर ऐसा न करने वालों की अपेक्षा असुरक्षा में जीते हैं। सेक्सटिंग पर ज्यादा यकीन वाले लोग डरते हैं कि कहीं उनका साथी उन्हें धोखा तो नहीं दे रहा।

Top