You are here
Home > लाइफस्टाइल > बुजुर्ग के लिए सेक्स है ज़रूरी, इससे मनोवैज्ञानिक जीवन रहता है बेहतर!

बुजुर्ग के लिए सेक्स है ज़रूरी, इससे मनोवैज्ञानिक जीवन रहता है बेहतर!

बुजुर्ग

बुजुर्ग के लिए सेक्स है ज़रूरी, इससे मनोवैज्ञानिक जीवन रहता है बेहतर! आपको यह जानकर हैरानी होगी की एक शोध में यौन गतिविधियों में अधिक महत्व व रूचि रखने वाले बुजुर्गो का मनोवैज्ञानिक जीवन ज्यादा अच्छा पाया गया है. खबर के अनुसार इस शोध को करने वाले ग्लासगो कैलेडोनियी यूनिवर्सिटी में मनोविज्ञान में पीएचडी करने वाले टेलर-जेन फ्लिन हैं। तथा इसमें उनके सहायक के रूप में कार्य किया है एलन जे.ग्रो ने। सर्वे में सामने आया है कि जो बुजुर्ग अक्सर सेक्स करते हैं, उनका दिमाग अच्छे से काम करता है। सर्वे करने वालों ने पाया है कि जो लोग नियमित रूप से सेक्स संबंधित गतिविधियों में शामिल रहते हैं, उन्होंने सर्वे के लिए हुए मौखिक धाराप्रवाह और अन्य टेस्टों में अच्छा स्कोर हासिल किया है।

[irp]

इस शोध के लिए 133 लोगो का चयन किया गया जिनकी उम्र 74 वर्षीय थी. यह अध्ययन एज एंड एजिंग जर्नल में प्रकाशित हुआ है। इस शोध में शोधकर्ताओं ने इनके सामने छह तरह की सेक्स गतिविधियों को जोड़ा था. वो यह है स्पर्श करना, हाथों को थामना, गले लगाना, चुंबन लेना, एक-दूसरे पर हाथ फेरना, हस्तमैथुन और संभोग। शोधकर्ता ने कहा कि शोध से पता चलता है कि जैविक तत्व, डोपामाइन और ऑक्सीटोसिन जैसे तत्व यौन संबंध बनाने से दिमाग को प्रभावित करते हैं। आगे कहते है, ‘हम केवल यह सोच सकते हैं कि यह सामाजिक या भौतिक तत्वों द्वारा संचालित होता हैं लेकिन यह एक ऐसा क्षेत्र है जिसमें हम आगे शोध करना चाहते हैं।’

[irp]

इसमें लोगो को ‘महत्वपूर्ण नहीं’ से लेकर ‘बेहद महत्वपूर्ण’ के ऑप्शन दिए गए थे इसमें सभी को कहा गया था की वे अपनी पसंद के अनुरूप इस पर अपने नंबर दे. इस शोध से वैज्ञानिक भी आश्चर्यचकित थे की बुजुर्गो का इस और रुझान ज्यादा अच्छा था. उन्हें इस दौरान ज्यादा अंक मिले. इस दौरान यह पाया गया है की बुजुर्गो का मनोवैज्ञानिक जीवन ज्यादा बेहतर पाया गया है। तथा यह भी ज्ञात हुआ है की बुजुर्ग व्यक्ति अपने सामाजिक जीवन व मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य बेहतरी के लिए सेक्स से जुड़ी गतिविधियों को काफी महत्व देते है।

Top