You are here
Home > देश > वर्जिनिटी टेस्ट का विरोध करने पर अपने ही समुदाय के तीन लोगों को पीटा

वर्जिनिटी टेस्ट का विरोध करने पर अपने ही समुदाय के तीन लोगों को पीटा

वर्जिनिटी टेस्ट

वर्जिनिटी टेस्ट का विरोध करने पर अपने ही समुदाय के तीन लोगों को पीटा, कंजरभट समुदाय की एक परंपरा के विरोध पर पंचायत के सदस्यों ने सोमवार को अपने ही समुदाय के तीन लोगों की बुरी तरह पिटाई कर दी। पुलिस ने केस दर्ज कर दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। कंजरभट समुदाय के ही यह तीनों पीड़ित अपने समुदाय में वर्जिनिटी टेस्ट के खिलाफ चल रहे ‘स्टॉप द वी रिचुअल’ नाम के वॉट्सऐप ग्रुप के सदस्य हैं। ये तीनों एक शादी में जिले के पिंपरी इंडस्ट्रियल टाउन में गए हुए थे। यहां इन्हीं के समुदाय के लगभग 40 लोगों ने इनकी बुरी तरह पिटाई कर दी। पीड़ितों ने बताया कि शादी समारोह के बाद समुदाय ने पंचायत रखी थी, जिसका उन्होंने बहिष्कार किया था क्योंकि वे इसे गलत मानते हैं।

इसे भी पढ़िए:   अस्पताल प्रबंधन ने नर्सों से करवाया जबरन सेक्सी डांस, मामला गरमाया

हालांकि अब विरोध के स्वर उठने लगे हैं और समुदाय के ही कुछ शिक्षित युवाओं ने इस अमानवीय और गलत परम्परा पर सवाल उठाए हैं। दो महीने पहले प्रियंका तमाईचेकर (26) और सिद्धांत इंद्रेकर (21) ने युवाओं में जागरुकता फैलाने और इस तरह के वर्जिनिटी टेस्ट पर नजर रखने के उद्देश्य से वॉट्सऐप ग्रुप बनाया है। एक प्राइवेट कंपनी के साथ काम कर रहीं प्रियंका ने बताया कि उनके इस कदम का बहुत विरोध हो रहा है और पैरंट्स अपनी लड़कियों को वॉट्सऐप ग्रुप छोड़ने का दबाव बना रहे हैं। वहीं सिद्धांत ने बताया कि उन्होंने हाल ही में समुदाय के प्रमुख का एक विडियो रेकॉर्ड कर लिया जो ऐसे ही एक केस की ‘सेटिंग’ करने के लिए सौदेबाजी कर रहे थे।

इसे भी पढ़िए:   भारत में दो तिहाई बच्चे शारीरिक शोषण के शिकार, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

इस वर्जिनिटी टेस्ट के तहत शादी के बाद पहली रात नई बहू की वर्जिनिटी जांची जाती है। इसके लिए सुहागरात को सफेद चादर बिछाई जाती है और सुबह उसकी जांच होती है। अगर उस पर खून के दाग पाए जाते हैं तो बहू को वर्जिन माना जाता है और शादी मान्य होती है अन्यथा बहू के परिवार को शादी मान्य करवाने के लिए जुर्माना भरना पड़ता है। यह किसी गुजरे जमाने की नहीं बल्कि इसी 21वीं शताब्दी के भारत की तस्वीर है। महाराष्ट्र के कंजरभट समुदाय के लोग सदियों पुरानी इस वर्जिनिटी टेस्ट की परंपरा को आज भी फॉलो करते हैं। इसमें ‘फेल’ होने पर कपड़े उतारना, शरीर के अंगों को दागना, खौलते तेल में से सिक्का निकालना जैसे दंड दिए जाते हैं।

Top