You are here
Home > अपराध > गैंगरेप पीड़िता की एफआईआर लिखने से पहले पुलिस वाले ने किया रेप!

गैंगरेप पीड़िता की एफआईआर लिखने से पहले पुलिस वाले ने किया रेप!

गैंगरेप पीड़िता

गैंगरेप पीड़िता की एफआईआर लिखने से पहले पुलिस वाले ने किया रेप! झारखंड में एक गैंगरेप पीड़िता अपनी फरियाद लेकर थाने पहुंची तो वहां पुलिस वाले ने भी उसकी आबरू लूटी। यह शर्मनाक घटना जमशेदपुर के मानगो में हुई है। खबरों के मुताबिक पीड़िता मानगो के सहारा सिटी में नानक चंद्र सेठ के घर में बतौर नौकरानी काम करती और रहती थी। उसका कई महीनों से यौन शोषण हो रहा था। पीड़िता की मां ने जनवरी के महीने में इसकी शिकायत पुलिस में की। पिछले साल पुलिस की पेट्रोलिंग टीम ने लड़की को दिमना में कुछ लड़कों के साथ देखा था। जिसके बाद पुलिस वाले लड़की और लड़कों को पूछताछ के लिए थाने ले गई थी।

इसे भी पढ़िए:   शराब के लिए पत्नी को वेश्या बना दिया, दोस्तों को भेजता था सेक्स करने

पीड़िता ने आरोप लगाया कि शिव कुमार नाम का एक शख्स बिजली का काम करता है और अक्सर सहारा सिटी आता रहता था। उसने एक अश्लील वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया था। आरोप है कि उसने लड़की को कई अन्य लोगों के साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए भी मजबूर किया। लड़की का आरोप है कि वहां एक पुलिस अधिकारी ने भी उसके साथ बलात्कार किया। पुलिस एफआईआर में शिव कुमार महतो, संतोष महतो और इंद्रपाल सिंह सैनी को नामजद कर पॉक्सो कानून के तहत मामला दर्ज किया गया। लेकिन किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया। पीड़िता मूल रूप से पोटका गांव की रहने वाली है।

इसे भी पढ़िए:   ब्लड कैंसर पीड़िता के साथ गैंगरेप: मुख्य आरोपी गिरफ्तार, बाकी की तलाश जारी

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार ने बताया कि पीड़ित लड़की ने पुलिस द्वारा रेप का सनसनीखेज खुलासा किया है। उन्होंने कहा, ‘पीड़िता ने एक थाने के पुलिस अधिकारी का नाम लिया है। जल्द ही पीड़िता को संबंधित थाने ले जाया जाएगा जहां पुलिसकर्मियों की पहचान कराई जाएगी। पुलिस अधिकारी द्वारा नाबालिग से दुष्कर्म करने की घटना बेहद गंभीर है। इस मामले में किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।’ एसपी के बयान के बावजूद तीनों आरोपियों में से किसी को भी अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।

 

Top