You are here
Home > विज्ञान > 5 करोड़ साल पुराना शुक्राणु मिला, वैज्ञानिकों के लिए मानव विकास समझने का वक्त

5 करोड़ साल पुराना शुक्राणु मिला, वैज्ञानिकों के लिए मानव विकास समझने का वक्त

5 करोड़

5 करोड़ साल पुराना शुक्राणु मिला, वैज्ञानिकों के लिए मानव विकास समझने का वक्त , मिल गया 5 करोड़ साल पुराना शुक्राणु, जानिए इंसान का या जानवर का, जमे हुए शुक्राणुओं के बारे में आपने सुना होगा, पर ये कहानी यहां तक बढ़ेगी, शायद ही किसी ने सोचा हो। दरअसल, स्वीडन के वैज्ञानिकों को पांच करोड़ साल पुराना शुक्राणु खोजा है। ये मिला अंटार्कटिका यानि उत्तरी ध्रुव के करीब। ये शुक्राणु जीवाश्म की अवस्था में था।

इस पेपर को लिखने वाले बेंजामिल बोलफ्लुएर ने कहा कि ये उत्तरी ध्रुव पर मिलने वाली विशेष क्राइफिस नाम के जीव का शुक्राणु है। वैज्ञानिकों का दावा है कि इस शुक्राणु से वे एक ही तरह के जीवों की अलग-अलग जातियों का विश्लेषण कर सकेंगे। वैज्ञानिक रिसर्च कर रहे हैं देखना होगा कि वो शुक्राणु के इस जीवाश्म से क्या नया पता लगा पाते हैं। वैसे देखा जाए तो इस खोज को मामूली नहीं समझा जाना चाहिए।

अगर वैज्ञानिक इस खोज सफल रहते हैं तो जीवन की उत्पत्ति के बारें कई रहस्य उजागर हो सकते हैं। तमाम रिसर्च को ये खोज गलत भी साबित कर सकती है। सबसे बड़ी बात कि ये शुक्राणु इंसान का नहीं है। जाहिर है कि मानव सभ्यता के विकास में कहीं ना करीं इसका योगदान तो होगा ही। अगर ऐसा है तो आने वाले वक्त में इंसानों के पास इस खोज की रिसर्च के रूप में ऐसा हथियार होगा जो हमारी आने वाली पीढ़ी की दशा औऱ दिशा तय कर सकता है।

स्टॉकहोम के स्वीडिश म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री द्वारा प्रकाशित रिसर्च पेपर में ये खुलासा हुआ है। नेशनल जियोग्राफिक रिपोर्ट के मुताबिक ये अबतक का सबसे पुराना शुक्राणु है। ये शुक्राणु क्लाटेल्लटा क्लास का है, पर वैज्ञानिक अभी तक इसकी जड़ तक नहीं पहुंच सके हैं। फिर भी वैज्ञानिकों ने हार नहीं मानी है। उन्हें उम्मीद है कि वो इसमें सफल होंगे। दूसरी तरफ पूरी दुनिया भी उनकी सफलता की कामना कर रही है क्योंकि ये खोज इंसान की उत्पत्ति से जुड़ी हई है।

इसे भी पढ़िए:   वर्जिनिटी खो चुकी लड़कियां धड़ल्ले से करवा रही हैं सर्जरी, कौमार्य वापस पाने के लिए
Top