You are here
Home > अपराध > बेहोश गर्लफ्रैंड को होश में लाने के लिए तब तक किया सेक्स, जबतक वो मर नहीं गई

बेहोश गर्लफ्रैंड को होश में लाने के लिए तब तक किया सेक्स, जबतक वो मर नहीं गई

बेहोश गर्लफ्रैंड

बेहोश गर्लफ्रैंड को होश में लाने के लिए तब तक किया सेक्स, जबतक वो मर नहीं गई , अपनी मृत गर्लफ्रेंड के साथ शारीरिक संबंध बनाने का दोष मान चुके एक शख्स को अमेरिकी राज्य कनेक्टिकट के विलियमटिक में जेल की सजा दी गई है। 39 साल के ऐरन ग्रेसर को कोर्ट ने शव के साथ फोर्थ डिग्री असॉल्ट करने का दोषी पाया है। ऐरन को एक साल की जेल हुई है। ऐरन पर पहले सेकंड डिग्री असॉल्ट के आरोप लगे थे। इसी साल जनवरी में पुलिस को अज्ञात शख्स का फोन आया जिसने एक फ्लैट में बेहोश महिला के होने की बात कही। पुलिस जब ग्रेसर के घर पहुंची तो महिला को बेहोशी की हालत में पाया। बेहोश गर्लफ्रैंड के चारों तरफ हेरोइन की सूइयां पड़ी हुईं थीं। पहले बेहोश गर्लफ्रैंड को उठाने की कोशिश की गई। बाद में मेडिकल एग्जामिनर ने पुष्टि की कि महिला पुलिस को फोन आने से पहले ही मर चुकी थी। बेहोश गर्लफ्रैंड का नाम सार्वजनिक नहीं किया गया है।

‘हार्टफोर्ड कॉरंट’ वेबसाइट के मुताबिक, ग्रेसर ने पुलिस को बताया कि उसने अपनी गर्लफ्रेंड को बेहोशी की हालत में देखा और उसके आसपास ड्रग्स से भरी सुइयां थी, तब उसने सोचा कि गर्लफ्रेंड को उठाने का सबसे बेहतर तरीका उसके साथ सेक्स करना होगा। ग्रेसर ने कहा कि ऐसा इसलिए क्योंकि उसकी गर्लफ्रेंड उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने से नफरत करती थी। ग्रेसर ने कहा कि उस वक्त महिला जिंदा थी क्योंकि उसके शरीर से कुछ आवाजें आ रही थीं।

ऐरन ने बयान में कहा, ‘मुझे पता था कि उसे मेरे साथ सेक्स करना पसंद नहीं, इसलिए मैंने सोचा कि ऐसा करने से शायद वह उठ जाए।’ ग्रेसर ने पुलिस को बताया कि उसने सेक्स के दौरान महिला के हाथ और पैर भी बांध दिए थे। ग्रेसर ने आगे बताया कि जब उसकी गर्लफ्रेंड नहीं उठी तो उसने अपने पड़ोसी को बुलाया। पड़ोसी ने पुलिस को बताया कि जब वह कमरे में गया, उससे कुछ घंटे पहले ही महिला की मौत हो चुकी थी। ऑटॉप्सी रिपोर्ट में पड़ोसी का यह दावा सही भी साबित हुआ। रिपोर्ट से यह भी साफ हो गया कि महिला की मौत ड्रग्स के ओवरडोज से हुई।

इसे भी पढ़िए:   किशोरी का रेप किया, फिर उसे बाइक पर बैठाकर घर तक छोड़ गया आरोपी!
Top