You are here
Home > देश > जिगोलो, मर्दों का ऐसा बाज़ार जहां औरतें उनके जिस्म की बोली लगाती हैं

जिगोलो, मर्दों का ऐसा बाज़ार जहां औरतें उनके जिस्म की बोली लगाती हैं

जिगोलो

जिगोलो, मर्दों का ऐसा बाज़ार जहां औरतें उनके जिस्म की बोली लगाती हैं। वेश्यावृत्ति के बारे में तो सबको पता है। लेकिन अब तक इस नाम यानि वेश्यावृत्ति के साथ जो तस्वीर दिमाग में आती थी वो महिला की होती थी। रेड लाइट एरिया के साथ भी यही है। लेकिन अब हम जो आपको बताने जा रहे हैं। वो थोड़ा चौंकाने वाला है।

जिगोलो। यानि मर्द जो वेश्यावृत्ति करते हैं। इस शब्द को विदेश में ‘मेल प्रोस्टूट्यूट’ यानी प्रोस्टीट्यूशन के धंधे में पड़े पुरुषों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। एक ताजा रिपोर्ट में ये सामने आया है कि दिल्ली, चंडीगढ़, मुंबई जैसे बड़े शहरों से ‘जिगोलो’ की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है।

भारत में भी मर्दों की बोली लगने लगी है। जो लड़के दूर दराज के कस्बों से शहर पहुंचते हैं उन्हें पैसे कमाने का सबसे आसान तरीका यही लगने लगा है। इस गौरखधंधे में फंसने वाले अधिकतर कॉलेज जाने वाले युवा बताए जा रहे हैं। दरअसल, इनमें कई युवा मजबूरी में तो कई पैसों के लालच में इस धंधे में कूद रहे हैं। पैसा कमाने की होड़ में डिग्री कॉलेजों के ये लड़के तेजी से इस व्यापार में लिप्त हो रहे हैं। इन लड़कों से सेवाएं लेने वाली महिलाएं भी बड़े घरानों से है जो एक बार में ही इन्हें 3000-5000 रुपए देती हैं।

वेश्यावृत्ति या फिर रेड लाइट में औरतों के शरीर की बोली लगती है, और ये बोली लगाने वाले होते हैं मर्द। लेकिन अब जो इस प्रोस्टूट्यूशन की सबसे चौंका देने वाली सामने आई है। देश में वैश्यावृत्ति तेजी से बढ़ती जा रही है। अब इस धंधे में मर्दों ने भी पांव पसारने शुरु कर दिए हैं। यही इस धंधे का काला सच है। महिलाओं से ज्यादा पुरुष इस धंधे में पड़ते जा रहे हैं। जाहिर है कम वक्त में ज्यादा पैसा कमाने का चस्का इस धंधे ने जगा दिया है। लेकिन इस धंधे के दुष्परिणाम भी खतरनाक हैं।

इसे भी पढ़िए:   एक रात की दुल्हन से बचकर रहना, असलियत जानकर होश उड़ जाएंगे!
Top