You are here
Home > देश > पूजा खूबसूरत हैं, हॉट हैं लेकिन उनके लुक्स की वजह से लोग मारते हैं उन्हें ताने

पूजा खूबसूरत हैं, हॉट हैं लेकिन उनके लुक्स की वजह से लोग मारते हैं उन्हें ताने

पूजा

पूजा खूबसूरत हैं, हॉट हैं लेकिन उनके लुक्स की वजह से लोग मारते हैं उन्हें ताने , भारतीय मूल के माता-पिता से जन्म लेने वाली मुंबई की रहने वाली एक 24 वर्षीय युवती को अपने ही मुल्क में कुछ लोगों ने बुली किया। उसको लेकर अपमानजनक और नस्लीय टिप्पणियां कीं। अपने ही देश में उनको कुछ लोग विदेशी होने का अहसास दिला रहे हैं।

पूजा गणात्रा के लाल बाल, स्किन पर झाइयां और हरी आंखें हैं। उनके इस ‘विदेशी’ लुक को देखकर उन्हें कई बार अजनबियों ने उनको बुली किया। बुली करने वाले लोग मानते हैं कि उनको त्वचा संबंधी कोई बीमारी है। अपने अनयूजुअल लुक्स को लेकर वो कहती हैं कि उन्हें खुद भी नहीं मालूम कि उनका लुक किसी विदेशी महिला जैसा कैसे है। उनके पैरंट्स इंडियन मूल के हैं। वो कहती हैं,”जन्म वाले दिन से ही मैं सबसे अलग दिखती थी।” उन्होंने यह बाद एक फेसबुक पोस्ट में लिखी।

कॉम्प्लेक्सन के चलते अजनबी लोग पूजा को कई बार हिंदी बोलते हुए सुनते हैं तो हैरान रह जाते हैं। यहां तक कि विदेशी मानकर उन्हें टूरिस्ट समझ बैठते हैं। पूजा कहती हैं कि अपने पुरखों की पहचान के लिए वह एक रोज डीएनए टेस्ट कराना चाहेंगी क्योंकि उनको अपने लुक्स के बारे में कुछ भी नहीं पता है। उन्हें नहीं पता कि उनके लुक्स विदेशी महिला जैसे क्यों हैं। उनका यकीन है कि डीएनए में उनके पुरखों के बारे में जरूर कुछ पता लग सकेगा।

पूजा एक टिपिकल इंडियन हैं और वह भारत का नागरिक होने पर गर्व महसूस करती हैं। वह खुदपर की जाने वाली टिप्पणियों को लेकर समाज से अलग पाती हैं। गणात्रा को उनके लुक्स के लिए स्कूल में सहपाठी भी टॉन्ट कसते थे। कई बार इन टिप्पणियों से परेशान होकर वह रोने तक लगती थीं।

पूजा के मुताबिक, गुजरते वक्त के साथ उन्हें चिढ़ाने वालों की तादाद बढ़ती रही और इस वजह से वह खुद को अट्रैक्ट्रिव नहीं मानती थीं। एक वाकये को याद करते हुए पूजा कहती हैं कि यूनिवर्सिटी में एक महिला प्रफेसर ने उनसे पूछा था, क्या कभी खुद को शीशे में देखा है? प्रफेसर ने पूजा से कहा,”तुम्हारा स्लीवलेस टॉप तुम्हारी वाइट स्किन से इस कदर मैच करता है कि यह आई कैची है। तुमको इसे छोड़कर उचित ड्रेस पहनना चाहिए।” यह तब होता था जबकि ड्रेसिंग को लेकर ऐसा कोई नियम नहीं था।

उनका कपड़ा निर्माण का बिजनस है। बचपन में उनको परिवार वाले अस्पताल भी ले गए क्योंकि पूरे खानदान में उसके जैसे लुक्स वाला कोई नहीं था। उनको शक था कि पूजा को शायद कोई स्किन बीमारी है। कई बार लोग उससे पूछते थे कि तुम्हारे चेहरे पर ये निशान कैसे हैं? यह एक मेंटल चैलेंज था। माता-पिता का स्किन टोन और लुक इंडियन लोगों जैसा ही है। उनके लिए पूजा का कॉम्प्लेक्सन किसी ‘रहस्य’ से कम नहीं है। पूजा के जन्म के बाद दोनों के दूसरी संतान पैदा नहीं करने का फैसला लिया।

इसे भी पढ़िए:   तसलीमा नसरीन ने किया ट्वीट, रेप से बेहतर है बस में मर्दों का हस्तमैथुन करना!

Leave a Reply

Top