You are here
Home > अपराध > भाभी को नहीं थी औलाद, देवर ने कहा मैं दूंगा और फिर भाभी के साथ खेला गंदा खेल

भाभी को नहीं थी औलाद, देवर ने कहा मैं दूंगा और फिर भाभी के साथ खेला गंदा खेल

भाभी

भाभी को नहीं थी औलाद, देवर ने कहा मैं दूंगा और फिर भाभी के साथ खेला गंदा खेल, यहां एक युवक ने अपनी भाभी के साथ दुष्कर्म किया। यही नहीं ससुरालियों ने 10 लाख रुपये की मांग के चलते उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया। घटना उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की है। देवबंद के एक गांव में देवर ने भाभी के साथ दुराचार किया। विवाहिता का आरोप है कि शादी के साढ़े तीन वर्ष तक कोई बच्चा नहीं हुआ तो देवर ने जबरन उसे हवस का शिकार बना लिया। इतना ही नहीं ससुरालियों ने 10 लाख रुपये की मांग के चलते उसे मारपीट कर घर से भी निकाल दिया। ऐसी हैवानियत सुन कर ही रूह कांप जाए।

इसे भी पढ़िए:   धर्म न बदलने पर ससुर और उसके भाई ने लूटी बहू की अस्मत! पति देखता रहा

आरोप लगाया कि शादी के साढ़े तीन वर्ष बाद भी उसके कोई औलाद नहीं हुई तो विगत 6 फरवरी को देवर उसके कमरे में घुस गया तथा जबरन उसे हवस का शिकार बना लिया। जब उसने ससुरालियों से इसकी शिकायत की तो उन्होंने देवर का पक्ष लिया तथा मारपीट कर घर से निकाल दिया। जिसके बाद से वह मायके में रह रही है। इस मामले में रविवार को एसएसपी ने कोतवाली पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

इसे भी पढ़िए:   जेठानी को भा गया देवरानी का नाबालिग भाई करने लगी झींगालाला

एक गांव निवासी महिला ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के यहां दी तहरीर में बताया कि वर्ष 2014 में उसका विवाह लक्सर के गांव ढाढकी में एक व्यक्ति के साथ हुआ था। पिता ने शादी में करीब 35 लाख रुपये खर्च किए थे। लेकिन ससुराल वाले इससे खुश नहीं थे और वह उसे कम दहेज लाने को लेकर परेशान करने लगे तथा उस पर मायके से दस लाख रुपये लेकर आने का दबाव बनाने लगे। जिसके चलते उसने मायके से दो लाख रुपये भी लाकर दिए। लेकिन ससुरालिए इससे संतुष्ट नहीं हुए और इसी के चलते उन्होंने मारपीट करते हुए उसे आग लगाकर जलाने का प्रयास भी किया। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। देखना होगा कि आखिर पुलिस की जांच किस नतीजे पर पहुंचती है।

Leave a Reply

Top