You are here
Home > देश > महिला आयोग की सिफारिश, 15 साल के कम उम्र की लड़कियों के रेप पर हो फांसी

महिला आयोग की सिफारिश, 15 साल के कम उम्र की लड़कियों के रेप पर हो फांसी

महिला आयोग

महिला आयोग की सिफारिश, 15 साल के कम उम्र की लड़कियों के रेप पर हो फांसी, हरियाणा राज्य महिला आयोग ने 15 साल तक की लड़कियों से रेप के दोषियों को फांसी की सजा दिए जाने की सिफारिश प्रदेश सरकार से की है। आयोग की अध्यक्ष प्रतिभा सुमन ने कहा है कि राजस्थान व मध्य प्रदेश की तर्ज पर कानून बनना चाहिए, जिसमें छोटी बच्चियों से रेप पर फांसी की सजा का प्रावधान है। हरियाणा सरकार को भी विधानसभा में इस प्रकार का कानून पास कराकर उसे लोकसभा में भेजना चाहिए।

इसे भी पढ़िए:   पूजा खूबसूरत हैं, हॉट हैं लेकिन उनके लुक्स की वजह से लोग मारते हैं उन्हें ताने

उन्होंने कहा कि कुछ विभाग ऐसे भी जिनमें गठित कमेटी में केवल पुरुषों को लिया गया है, जबकि सदस्यों में कोई न कोई महिला का होना अनिवार्य है। इससे पहले महिला आयोग की ओर से रोहतक में संयुक्त बेंच लगाई गई, जिसमें लगातार तीन दिन तक महिलाओं की शिकायतें सुनी गई।आयोग की अध्यक्ष बुधवार को स्थानीय कैनाल रेस्ट हाउस में पत्रकारों से चर्चा कर रही थी। उन्होंने कहा कि महिलाओं के यौन उत्पीड़न संबंधी विवादों की सुनवाई फास्ट ट्रैक न्यायालय में होनी चाहिए ताकि दोषी को निर्धारित अवधि में सजा दिलवाई जा सके। उन्होंने रेप के मामलों में अशिक्षा को मुख्य वजह माना। उन्होंने कहा कि महिलाओं को जागरूक करने के लिए आयोग प्रदेश भर में जागरूकता कैंप लगाएगा। वहीं, प्रतिभा सुमन ने यह भी कहा कि कुरूक्षेत्र रेप पीड़िता के आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं।

इसे भी पढ़िए:   वीरेंद्र देव दीक्षित रखता था आश्रम की लड़कियों के पीरियड्स की डिटेल्स!

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि राज्य महिला आयोग झूठे शिकायतकर्ताओं का साथ नहीं देगा। प्रतिभा सुमन ने कहा कि आयोग ने प्रदेश में कार्यरत सभी बोर्ड, निगम, कार्पोरेशन व औद्योगिक संगठनों में पत्र जारी कर यौन उत्पीड़न निरोधक कमेटी का गठन बारे जानकारी मांगी है। इससे आयोग के समक्ष आई रिपोर्ट से पता चला है कि बहुत से विभागों में महिलाओं की सुनवाई के लिए यौन उत्पीड़न कमेटियों का गठन नहीं किया गया है।

Leave a Reply

Top