You are here
Home > दुनिया > डिप्टी पीएम के कम्प्यूटर में मिले पॉर्न वीडियो, छोड़नी पड़ी कुर्सी!

डिप्टी पीएम के कम्प्यूटर में मिले पॉर्न वीडियो, छोड़नी पड़ी कुर्सी!

डिप्टी पीएम

डिप्टी पीएम के कम्प्यूटर में मिले पॉर्न वीडियो, छोड़नी पड़ी कुर्सी! 61 वर्षीय डेमियन ग्रीन ब्रिटेन प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे के सबसे क़रीबी मंत्री थे। ब्रितानी प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे के सबसे क़रीबी मंत्रियों में से एक डिप्टी पीएम डेमियन ग्रीन को पद से हटा दिया गया है। एक जांच में पता चला है कि डिप्टी पीएम डेमियन ग्रीन ने मंत्रालय के नियमों का उल्लंघन किया है।इससे पहले माइकल फैलॉन और प्रीति पटेल को नवंबर में पद छोड़ना पड़ा था। बीबीसी की राजनीतिक संपादक के मुताबिक ग्रीन के मंत्रीमंडल से जाने के बाद प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे अब और अकेली पड़ गई हैं। अपने लिखित बयान में ग्रीन के पद से हटने पर गहरा अफ़सोस जताते हुए टेरीज़ा मे ने कहा है कि मंत्री से जो उम्मीद की जाती है ग्रीन के कृत्य उस पर खरे नहीं उतर पाए। एक महिला पत्रकार से दुर्व्यवहार के मामले में भी उन पर जांच चल रही थी।

इसे भी पढ़िए:   कब्रिस्तान में सेक्स करने का चलन बढ़ा, एडवेंचर के चक्कर में करते हैं लोग!

हालांकि डिप्टी पीएम डेमियन ग्रीन ने ख़ुद पर लगे आरोपों को खारिज किया था। साल 2008 में उनके दफ़्तर के कंप्यूटर से पॉर्न वीडियो मिले थे। हालांकि उन्होंने वीडियो डाउनलोड करने या देखने से इनकार किया था।कैबिनेट ऑफ़िस की एक अधिकारिक जांच में कहा गया है कि ग्रीन ने अपने कंप्यूटर से पॉर्न वीडियो मिलने के बारे में जो दो बयान दिए थे वो भ्रामक और ग़लत थे और मिनीस्ट्रियल कोड का उल्लंघन थे।

इसे भी पढ़िए:   ब्रिटेन में पाकिस्तानियों का गैंग सक्रिय, नशीली दवाएं देकर लड़कियों के साथ रेप

जांच में पता चला है कि डेमियन ग्रीन ने साल 2008 में अपने दफ़्तर के कंप्यूटर में मिले पॉर्न वीडियो के बारे में ग़लत और भ्रामक बयान दिए थे। उन्होंने लेखिका केट माल्टबी को साल 2015 में अहसज महसूस करवाने के लिए भी माफ़ी मांग ली है। ग्रीन के राजनीतिक करियर पर उसी समय से खतरा मंडराने लगा था, जब पत्रकार व कार्यकर्ता केट माल्टबी ने आरोप लगाया कि 2015 में एक पब में ग्रीन ने उनके साथ ऐसी हरकत की थी, जिससे वह असहज हो गई थीं। ग्रीन ने अपने इस्‍तीफे में इसके लिए उनसे माफी मांगी है। बीबीसी की राजनीतिक संपादक लॉरा क्वेंसबर्ग का कहना है कि प्रधानमंत्री मे के पास ग्रीन को पद से हटाने के अलावा और कोई विकल्प नहीं था। 61 वर्षीय ग्रीन उप प्रधानंत्री की भूमिका में थे। वो दो महीनों के अंतराल में पद छोड़ने वाले तीसरे ब्रितानी मंत्री बन गए है।

इसे भी पढ़िए:   पत्नी आर्गेस्ज़म के चक्कर में चबा गई पति का अंडकोष! चौंकाने वाली खबर

आपको बता दें कि ऐसा ही मामला काफी पहले पूर्व कॉलगर्ल क्रिस्टीन कीलर ने  भी इंग्लैंड की राजनीति में भूचाल ला दिया था। ये बात है 1960 की। हलांकि क्रिस्टीन की 75 साल की उम्र में लीवर की बीमारी के चलते मौत हो गई। पूर्व कॉलगर्ल क्रिस्टीन कीलर का केबिनेट मिनिस्टर जॉन प्रोफूमो के साथ अफेयर था। चोरी-छिपे इस अफेयर के बारे में जब दुनिया को पता चला तो जॉन प्रोफूमो की कुर्सी तो गई ही साथ ही तत्कालीन प्रधानमंत्री हारोल्ड मैकमिलन को भी कुर्सी गंवानी पड़ी थी। उनका और जॉन प्रोफूमो का स्कैंडल पूरी दुनिया में फेमस हो गया था।

Leave a Reply

Top