You are here
Home > अपराध > गैंगरेप के दौरान छात्रा चीखती रही लेकिन वो नहीं पसीजे, फिर गला दबाकर मार डाला

गैंगरेप के दौरान छात्रा चीखती रही लेकिन वो नहीं पसीजे, फिर गला दबाकर मार डाला

गैंगरेप

गैंगरेप के दौरान छात्रा चीखती रही लेकिन वो नहीं पसीजे, फिर गला दबाकर मार डाला, बिहार के सारण जिले के छपरा मशरक में दुष्कर्म के दौरान छात्रा की हत्या करने के मामले का पुलिस ने 72 घंटे के अंदर कर लिया। इस मामले में पुलिस ने चार आरोपितों को गिरफ्तार करने में महत्वपूर्ण कामयाबी हासिल की है। इस आशय कि जानकारी पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय ने अपने कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में दी। उन्होंने कहा कि छात्रा के साथ गैंग रेप करने का प्रयास चारों आरोपितों ने किया था और जब छात्रा ने विरोध किया और शोर मचाया तो, गला दबा कर हत्या कर दी गयी।

इसे भी पढ़िए:   प्रेमिका से शारीरिक संबंध बनाकर मन भर गया तो गला दबा कर मार डाला!

उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट तथा फोरेंसिक लैब की जांच रिपोर्ट आने के साथ ही चार्जशीट दाखिल कर चारों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल कराने का न्यायालय से अनुरोध किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जांच में चारों के खिलाफ हत्या करने तथा गैंगरेप का प्रयास करने का पर्याप्त साक्ष्य मिला है। उन्होंने कहा कि 8 दिसंबर को मशरक में घर से कोचिंग जा रही छात्रा के साथ बन छपरा पोल्ट्री फार्म में गैंगरेप का प्रयास किया गया। उन्होंने कहा कि घटना स्थल से छात्रा का स्कूल बैग, दुपट्टा, रूमाल, परिचय पत्र, कापी किताब व अन्य सामान बरामद किया गया है।

इसे भी पढ़िए:   मुंबई में एक युवक ने अपने दोस्त युवक के साथ बनाना चाहा अप्राकृतिक संबंध!

अब तक जांच में यह बात सामने आयी है कि गैंगरेप का प्रयास किया गया और असफल होने पर हत्या कर दी गयी। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट तथा फोरेंसिक लैब की जांच रिपोर्ट आने के बाद ही यह स्पष्ट हो सकेगा कि दुष्कर्म हुआ था या नहीं। उन्होंने कहा कि चारों आरोपितों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलाया जायेगा और जल्द ही चार्जशीट दाखिल कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट तथा फोरेंसिक लैब की जांच रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है।

इसे भी पढ़िए:   ससुर करता था अपनी विधवा बहू के साथ रोज़ाना रेप, देवर ने भी किया हाथ साफ!

उन्होंने कहा कि सभी पुलिसकर्मियों का योगदान सराहनीय रहा है जिन्हें पुरस्कृत किया जायेगा। उन्होंने कहा कि दुष्कर्म व हत्या के मामले में गिरफ्तार चारों आरोपितों के खिलाफ शराब का कारोबार करने व समाज विरोधी गतिविधियों में संलिप्त रहने का साक्ष्य मिला है। उन्होंने कहा कि चारों आरोपितों को तीन अलग अलग जगहों से गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अपराधियों की निशानदेही पर ही छात्रा का स्कूल बैग व अन्य सामान बरामद किया गया।

इसे भी पढ़िए:   बाप ने किया बेटी का रेप, मां की मौत के बाद ही बनाने लगा था हवस का शिकार

उन्होंने बताया कि इस मामले में बेन छपरा गांव के विनोद सिंह, घोघिया गांव के राजा कुमार, भूलावन राय, देवरिया गांव रवि कुमार शामिल है। उन्होंने बताया कि विनोद सिंह के पास से एक मोबाइल तथा एक सिम कार्ड बरामद किया गया है जो घटना में प्रयुक्त किया गया है और इसके अलावा चार अन्य सिम कार्ड बरामद किया गया है। रवि कुमार के पास से भी घटना में प्रयुक्त एक सिम कार्ड बरामद किया गया है। राजा के पास से एक मोबाइल सेट सहित सिम कार्ड बरामद किया गया है। उन्होंने कहा कि इस घटना की जांच के लिए एसआइटी का गठन किया गया था जिसमें मशरक थानाध्यक्ष अजय कुमार पासवान, पुअनि मिथिलेश साह, सअनि ठाकुर राजेश्वर सिंह के अलावा तीन महिला पुलिस कर्मी व छह पुलिस कर्मी शामिल किये गये थे।

Top